सिके लाल

यो कस्तो खाले मौनता हो ? access_timeपुस २८, २०७४

म आफ्नो कुरा भारतका कवि अवतार सिंह ‘पाश’को कविताबाट सुरु गर्न चाहन्छु । मेहनत की लुट सबसे खतरनाक नहीँ होती पुलिस की मार सबसे खतरनाक नहीँ होती गद्दारी, लोभ की मुट्ठी सबसे खतरनाक नहीँ होती   बैठे बिठाए पकड़े जाना बुरा तो है सहमी सी चु...